Best 10 Lines Short Stories With Moral In Hindi | 10 लाइन की कहानी

10 Lines Short Stories With Moral In Hindi” (10 लाइन की कहानी) एक संग्रह है जिसमे हमने छोटी छोटी  कथाओं को संग्रहित किया है, इन कहानियो Moral या सीख होती है। ये कथाएं विविध विषयों पर आधारित होती हैं और सामाजिक, नैतिक विषयो पे आधारित है।

यह कहानिया उन संदेशों को बताती है जिनका उपयोग करके पाठक अपने जीवन में सफलता हासिल कर सकता है। ये कहानियां आदर्शों, नैतिकता, समय-प्रबंधन, सामाजिक सद्भाव, सफलता के मार्गदर्शक, और स्वयंसेवा जैसे मुद्दों पर विचारक हैं।

“Short Stories With Moral In Hindi” उन लोगों के लिए एक मनोरंजनात्मक स्रोत है जो विचारशीलता और सद्गुणों को बढ़ावा देने के इच्छुक हैं और इसका उपयोग अपने दैनिक जीवन में बेहतर निर्णय लेने के लिए करना चाहते हैं।

प्रत्येक कथा के अंत में, पाठकों को विचार करने और अपने जीवन में उच्चतम मानवीय मूल्यों का पालन करने के लिए प्रेरित करने का प्रयास किया जाता है। यह संग्रह बच्चों, युवा और वयस्क सभी आयु समूहों के लिए लिखी गई है और उन्हें जीवन के महत्वपूर्ण मुद्दों पर सोचने और समझने का अवसर प्रदान करती है।

इस संग्रह में शामिल की गई कथाओं के माध्यम से, पाठक एक प्रोत्साहन और सकारात्मक दृष्टिकोण प्राप्त करते हैं और उन्हें अपने संघर्षों के सामर्थ्य और अवसरों के साथ मुकाबला करने की क्षमता प्राप्त होती है।

यह संग्रह जीवन के उच्चतम मूल्यों की महत्वपूर्णता को प्रदर्शित करता है और पाठकों को सही और गलत के बीच समझदार निर्णय लेने की क्षमता संवर्धित करता है।

10 Lines Short Stories With Moral In Hindi

1. कौवा और मोर – कौन खुश है?

एक बार की बात है, एक कौवा था जो अन्य पक्षियों की तरह रंगीन और सुंदर होना चाहता था। एक बार उसे एक तोता मिला, उसने तोते के पास जाकर कहा तुम कितने सुन्दर हो, काश मै भी तुम्हारे ही तरह रंगीन होता तो मै भी सुन्दर लगता।

तोता ने कहा मै कहाँ सुन्दर हु भाई, तुम कभी मोर को देखना वो बहुत सुन्दर पछि है। तब वो कौवा मोर की तलाश करने लगा, ताकि वो मोर से पूछ सखे की वो इतना सुन्दर कैसे है और कौवा भी सुन्दर तथा रंगीन दिखने लगे।

एक दिन उस कौवे को एक मोर दिखा। मोर की खूबशूरती देखते हुए कौवा बोला, अरे वाह मोर तो वाकई बहुत सुन्दर है मुझे इससे इसकी सुंदरता का राज जानना चाहिए, ताकि वो कौवा भी अपने काले रंग से छुटकारा पा सके।

फिर उस कौवे ने मोर के पास जाकर भाई तुम बहुत ही ज्यादा सुन्दर हो, कृपा कर के मुझे भी अपनी खूबशूरती का राज बता दो, मुझे भी तुम्हारी ही तरह सुन्दर होना है। तब मोर ने कहा, “तुम सबसे भाग्यशाली पक्षी हो। क्योंकि तुमको कभी किसी ने पिंजरे में बंधा नहीं है।

और हम अपनी सुंदरता के कारण पिंजरे में बंधे रहते हैं, और तुम हमेशा स्वतंत्र रहते हो।” इसे सुनकर, कौवा को अपनी गलती का अहसास हुआ, वह ईश्वर का धन्यवाद दिया कि वह उसे ऐसा बनाया है और वह अपने काले रंग के साथ ख़ुशी से रहने लगा।

Moral : कभी खुद को दूसरों से तुलना न करें। उसी से खुश रहें, जो आपके पास है, और जो आप हैं।

2. भगवान् पे भरोसा। 10 Lines Short Stories

एक बार की बात है, एक पहाड़ी पे चढ़ाई करने वाला व्यक्ति था, जो हर पहाड़ी पे चढ़ना चाहता था। उसने कई पहाड़ चढ़ भी लिए थे। एक रात वह एक पहाड़ी पर चढ़ रहा था। अँधेरा होने के कारन उसे कुछ अच्छे से दिखाई नहीं दे रहा था।

इसलिए उसने एक कमजोर पत्थर पर जैसे ही अपना पैर रखा, वो पत्थर पहाड़ से उखड कर निचे गिर गया। साथ ही वह आदमी भी नीचे गिरने लगा और उसे महसूस होने लगा कि वह अब मरने वाला है।

लेकिन तभी उसकी सुरक्षा रस्सी जो की उसके कमर में बंधी थी, वो उसे नीचे गिरने से रोक ली। अब उसका नीचे गिरना बंद हो गया, और वह वहीं लटका रह गया।

वह ईश्वर से प्रार्थना करने लगा, हे ईश्वर मुझे बचा लो। तभी उसने एक आवाज सुनाई दी, “मैं हूँ, पुत्र। यदि तुम मुझपर विश्वास करते हो कि मैं तुम्हें बचा सकता हूँ, तुम उस रस्सी को काट दो जिसमें तुम लटके हो।”

उसने नीचे देखा की अभी कितना नीचे जमीन है अँधेरे में उसे कुछ दिखाई नहीं दे रहा था, इसलिए उसने रस्सी काटने से इंकार कर दिया। अगले दिन बचावकर्ताओं ने मरे हुए हालत में पाया।

लेकिन उन्होंने देखा कि उसका लटकता हुआ शरीर जमीन से बस 2 मीटर की दूरी पे था। अगर उसने अपनी रस्सी काट दी होती, तो वह सुरक्षित और जीवित होता।

Moral: हमेशा ईश्वर में विश्वास रखें, चाहे रास्ता कितना भी कठिन दिखे।

3. बूढ़े माता-पिता

एक आदमी अपने बूढ़े माता-पिता से बहुत परेशान था। कभी-कभी गुस्से में वह उन्हें मार भी देता था। एक दिन उसने उन्हें अपने घर से निकाल दिया। वे दोनों उदासी से घर छोड़कर चले गए और कभी वापस नहीं आए।

अब, यह आदमी अपनी पत्नी और बच्चों के साथ ख़ुशी से रहने लगा। यह अक्सर ये सोच के खुश होता था की चलो अच्छा है उन बूढ़ो से छुटकारा मिला और अब यहाँ शांति ही शांति है।

काफी साल बीत जाने के बाद जब इसके बच्चे बड़े हो गए और उन लोगो ने अपनी शादी कर ली। फिर उसकी बीबियो में लड़ाई होने लगा। अक्सर एक भाई दूसरे भाई से लड़ते थे।

वे लोग अब अलग होना चाहते थे। उसके बच्चे भी अब उसी आदमी के साथ वैसा ही व्यवहार कर रहे थे, जैसा कि उसने अपने बूढ़े माता-पिता के साथ किया था। एक दिन उन लड़को ने घर का बटवारा कर दिया।

और उनमे से कोई भी अपने माँ बाप को अपने साथ रखने को तैयार नहीं था। उनलोगो ने भी अपने माता पिता को घर से निकल दिया। वह आदमी अब उन दिनों को याद कर रहा था और उसे अपने माता-पिता के प्रति किए गए अत्याचारों से गहरा दुख हो रह था।

Moral:  हमें अपने माता-पिता का सम्मान करना चाहिए, अन्यथा जैसे आप उनके साथ व्यवहार करेंगे, उसी तरह आपके साथ भी भविष्य में हो सकता है।

 

4. अच्छे कर्म

एक बार एक गुलाम था जिसका मालिक उसे बहुत मारा करता था। एक दिन, उसे और सहन नहीं हो हुआ तो, वह मौका देख के जंगल में भाग गया। जांगले में पहुँचते ही उसे रास्ते में  एक शेर दिखा जिसके पैर में एक कांटा चुभा था।

जिसके कारण वह चल नहीं सकता था। गुलाम उस शेर को देख के डर गया। मगर शेर की हालत देख के डरे हुए होने के बावजूद, गुलाम ने अपनी हिम्मत जुटाई, और शेर के पैर से कांटा निकाला।

जब शेर के पैर से कांटा निकला, तो वह शेर गुलाम को चोट नहीं पहुंचाया और जंगल में भाग गया। कुछ समय तो उसके उस जंगल में आराम से बीत गए। पर एक दिन गुलाम के मालिक द्वारा भेजे गए सैनिको ने उस गुलाम को पकड़ लिया।

सैनिको ने उसे मालिक के पास लाया। फिर मालिक ने उसे जान से मारने का आदेश दे दिया, तो सैनिको ने उसे एक शेर के पिंजरे में फेक दिया। जैसे ही शेर उसे मारने के लिए उसके पास आया। पर वह शेर उसे मारा नहीं बल्कि अपना पैर उसे दिखने लगा।

गुलाम अब उस शेर को पहचान गया की यह वही शेर है जिसकी मदद उस गुलाम ने की थी। जब मालिक को ये बात पता चली तब मालिक भी इसे भगवान् की मर्जी मान कर उसे माफ़ कर दिया।

Moral: आपके अच्छे कर्म आपके पास वापस आएंगे। अच्छे कर्म करें और दूसरों के प्रति दयालु रहें।

 

5. बच्चे का विश्वास

एक गांव में एक छोटा सा लड़का रहता था। एक दिन वह अपने पापा के साथ बाजार में घूमने गया, वहां उसे एक खिलौने की दुकान दिखी, उस दुकान में एक बहुत ही सुन्दर खिलौना रखा हुआ था। जो की उस लड़के को पसंद आ गया।

लड़के ने अपने पापा से उस खिलौने को खरीने को कहा, पर उसके पापा ने कहा, बेटा अभी मेरे पास इतने पैसे नहीं है जो मै तुम्हारे लिए खिलौना खरीद सकू। लड़का थोड़ा उदास हो गया, पर उसने वो खिलौना खरीदने का अपने मन में ठान लिया।

अब उसका सपना था की, उसे वह खिलौना ख़रीदना है। वह कई दिनों तक पैसा इकट्ठा करता रहा, पर खिलौने को खरीदने के लिए उतना पैसा इकठ्ठा नहीं कर पाया। वह अकसर उस खिलौने को दुकान के बाहर से देखता रहता और खरीद ना पाने के कारन उदास रहता था।

एक दिन, संयोग से, दुकानदार ने उसे पास बुलाया और पुछा तुम यहाँ क्या देखते रहते हो। बच्चे ने बताया उसे यह खिलौना बहुत पसंद है, पर वह अभी तक इतने पैसे इकट्ठा नहीं कर पाया है।

दुकानदार ने बच्चे की मासूमियत को देकते हुए, उसे वह खिलौना उपहार के रूप में दे दिया। बच्चा खुशी से झूम उठा और खिलौने को गले लगाकर धन्यवाद दिया। उसने अपना सपना पूरा कर लिया और एक महत्वपूर्ण सबक सीखा – विश्वास और संयोग की शक्ति का महत्व।

Moral: विश्वास करो और संयोग को आपकी ओर आने दो, जीवन में आपको चमत्कारिक अनुभव मिलेंगे।

 

6. दूसरों की मदद 10 Lines Short Stories

एक बार एक आदमी किसी काम से बहार जा रहा था। अभी कुछ ही दूर गया था की उसे रास्ते में भींड़ दिखाई दिया, वो भी उधर चला गया, ये जानने के लिए की आखिर इतने सारे लोग यहाँ क्यों इकठ्ठा है।

वहा पहुंच के उसके देखा की एक गरीब आदमी का एक्सीडेंट हो गया है। पर उसकी कोई मदद नहीं कर रहा है। उस आदमी को एक बाइक वाले ने टक्कर मार दी थी। टक्कर के बाद सड़क पर गिर गया। जिससे उसे चोट लग गया था।

वह खुद से उठने में असमर्थ था। तब इसने गरीब आदमी को जल्दी से उठा के बैठाया और साथ उसकी मदद की। गरीब आदमी ने पूछा, “तुमने मेरी मदद क्यों की?” यहाँ और भी लोग है पर तुम ही आगे क्यों आये।

तब उस आदमी ने कहा, मुझे नहीं पता शायद ऊपर वाला ही मुझे यहाँ भेजा है, मै तो अपने काम से जा रहा था तभी मैंने भीड़ देखी। आपको इस हाल में देखा मुझे लगा मै आपकी मदद कर सकता हु तो मैंने कर दिया। गरीब आदमी ने उसे बहुत धन्यवाद दिया।

साथ ही वहा खड़े लोगो ने भी उसकी तारीफ की। इस घटना ने उस आदमी की सोच को बदल दी, और वह समझ गया कि दूसरों की मदद करने में खुशी होती है। अब उसे और भी अच्छा महसूस हो रहा था।

Moral: दूसरों की मदद करने में खुशी होती है, और यह एक नेक कार्य है।

 

7. शेर और खरगोश (Best 10 Lines Short Stories With Moral In Hindi)

एक बार की बात है, एक जंगल में एक शेर रहता था। जो अपने भोजन के लिए हर रोज़ 2 से 3 जानवरों का शिकार करता था। सभी जानवर उससे परेशान रहते थे। सब अपने जिन्दा रहने की सलामती मांगते। उन जानवरो ने एक सभा बुलाई, और मुद्दा था की,

अगर शेर ऐसे ही रोज जानवरो को मरता रहेगा तो एक दिन सभी जानवर मर जायेंगे और पूरे जंगल में एक भी जानवर नही बचेंगे।उन लोगो ने ऐसा तय किया की, हर दिन एक जानवर खुद से शेर के पास जायेगा, शेर उसे खा लेगा। इससे बाकि के जानवर को खतरा नहीं रहेगा।

और जानवरो की आबादी भी जल्दी खतम नहीं होगी। जानवरो ने शेर को यह बात बताई। शेर को यह तरकीब अच्छी लगी और वह राजी हो गया। और फिर हर रोज एक जानवर शेर के पास जाता, शेर उसे खा लेता, फिर बाकि के जानवर आराम से घूमते उन्हें कोई खतरा नहीं रहता।

एक दिन, बारी खरगोश की आई। जब वह शेर के पास जा रहा था, तो उसने एक कुआं देखा। अब उसने शेर को मारने और अपनी जान बचाने की योजना बनाई। उसने शेर के पास जाकर बताया कि इस जंगल में एक और शेर है जो तुमसेअधिक शक्तिशाली होने का दावा करता है।

तब शेर ने खरगोश से कहा कि उसे उस शेर के पास ले जाए। खरगोश ने उसे कुएं की तरफ ले गया और कहा कि वह यहीं रहता है। जब शेर ने कुएं में देखा, तो उसने अपना प्रतिबिंब देखा फिर उसने शेर को मरने के लिए कुए में खुदा और वही डूब के मर गया।

 

8. बुद्धिमान किसान 10 Lines Short Stories

एक किसान रोज मंडी में जाता और अपनी सब्जिया बेच कर उससे जो पैसा मिलता उससे अपने घर का पालन पोषण करता था। एक दिन वह मंडी से सब्जी बेच कर लौट ही रहा था की उसे रास्ते एक डांकू मिला।

वह डांकू दुष्ट बहुत खतरनाक दिख रहा था। उसके पास एक तलवार की तरह की चाकू था। डांकू ने किसान से कहा अपने सारे पैसे मुझे दे दे नहीं तो मै तुझे मार डालूंगा।

किसान डर गया और उसने अपने सारे पैसे उस दुष्ट डांकू को दे दिए। जब वह दुष्ट डांकू वहाँ से जाने लगा, तो किसान ने कहा, “तुमने मेरे सारे पैसे तो लूट लिए हैं, अब मेरी बीबी मुझे पैसे ना लाने के कारन मुझसे लड़ाई करेगी।

कृपया मुझे अपनी ये चाकू दे दो, ताकि मेरी पत्नी को ये ना लगे की मेरे पैसे किसी ने छीन लिए और मै कमजोर की तरह खाली हाँथ घर चला आया।  मै अपनी पत्नी को ये चाकू दिखा सकूँ, और उससे कहु की मैंने ये चाकू उन पैसो से तेरे लिए लाया है। वह खुश हो जाए।”

उस दुष्ट डांकू किसान के ऊपर दया आई और वह अपनी चाकू को किसान को दे दिया। किसान इतना बुद्धिमान था कि उसने चाकू की मदद से डांकू से अपने सारे पैसे वापस ले लिए। साथ ही उसका चाकू भी अपने साथ ले गया।

Moral: यह कहानी हमें सिखाती है कि अगर आपके पास बुद्धिमान है, तो आप किसी भी समस्या का सामना कर सकते हैं।

 

अवलोकन – rshindi.com के द्वारा बताई गई, ( Best 10 Lines Short Stories With Moral In Hindi ) 10 लाइन की कहानी की कहानी आपको कैसी लगी हमें comment कर के जरूर बताये।


यह भी पढ़े :

सच्ची दोस्ती

सत्संग का फल

परिश्रम का महत्व

चींटी का संघर्ष

परोपकार का महत्व

सियार की पत्नी

आप हमें Facebook में भी follow कर सकते है।

Leave a Comment