Atmavishwas kaise Badhaye 2023 – आत्मविश्वास कैसे बढ़ाये – Increase Self Confidence

हैलो दोस्तों आप  सबका स्वागत है rshindi.com  में,  इस पोस्ट में हम आपसे आत्मविश्वास और दुसरो पे  विश्वास  के ऊपर कहानी सुनाएंगे। उससे पहले बात करेंगे आत्मविश्वास  के बारे में की Atmavishwas kaise Badhaye, आत्मविश्वास हमारे जीवन का एक बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है।

जिससे इंसान को किसी भी लक्ष्य को हाशिल करने की प्रेरणा मिलती  है।  किसी भी काम को करने के लिए हर व्यक्ति में अलग अलग छमता होती है, जिस व्यक्ति के अंदर जितना ज्यादा आत्म्विश्वास होगा वो उतना ही जल्दी और आसानी से उस काम को कर लेगा।

एक आत्मविश्वास से भरे व्यक्ति के अंदर अलग ही हावभाव होते है। आपके जीवन में कभी ऐसा समय आये कि, लोग आपसे कहे की तुम इस काम को नहीं कर सकते तो आप ये सोचिये की उनकी ये सोच गलत है।

अपना आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए उन कामो को कीजिये जिन कामो से आपको डर लगता है

हम सभी जानते है की किसी भी काम को करने के लिए आत्मविश्वास बहुत जरुरी है हम बिना इसके कुछ कर नहीं सकते और ना ही किसी काम में हमे सफलता मिलेगी।

हमारे भागदौड़ भरी जिंदगी में सोचने समझने के लिए बहुत कम मौके मिलते है इसलिए हमें फैसला लेने में जल्दीबाजी नहीं करनी चाहिए जब आप कोई बड़ा फैसला लेने लगेंगे, वही से आप के अंदर आत्मविश्वास आना भी शुरू हो जायेगा।

अगर आप किसी ऐसे दोस्तों के साथ रह रहे हो जिनके अंदर आत्मविश्वास नहीं है तो ऐसे दोस्तों से दूर रहना चाहिए कोशिश करे हमेसा ऐसे लोग के साथ रहने की जो अपना आत्मविश्वास बढ़ाये।

आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए सबसे जरुरी है खुद के बारे में सोचे :-

हमें हर दिन अपने लिए थोड़ा सा ही सही समय निकलना चाहिए ताकि हम अपने बारे में कुछ सोच सके इससे ये फायदा होगा की हम अपने भविष्य में क्या क्या करना चाहते है और कितना काम हो गया है कितना बचा है आगे जो मौके मिलेंगे उनके लिए आप तैयार है या नहीं ये सब बाते आपके आत्मविश्वास को बढ़ाने में मदद करेंगी।

जब तक हम अपने बारे में नई सोचेंगे तब तक हमारे अंदर आत्मविश्वास की कमी रहेगी ही। हमारे रोजमर्रा की जिंदगी में हमारा व्यवहार और हमारी पहचान जीने का तरीका तय करता है जैसे की योगा, समय से उठना, समय से काम करना और अच्छा खाना पीना ये सब हमारे दिमाग को शांत रखने में हमारी मदद करते है।

अब सवाल यह है कि आत्मविश्वास जन्म के साथ ही आता है या समय के साथ आता है तो इसका जवाब ये है कि आत्मविश्वास जन्म के साथ नहीं बल्कि ये हमारे अनुभव से आता है।

हमने अपनी जिंदगी में समय के साथ साथ जिस भी छेत्र में जितना ज्यादा अनुभव हासिल किया होगा उस छेत्र में हमारा आत्मविश्वास स्वभाविक रूप से ज्यादा होगा।

अब मैं आप लोगो को एक कहानी सुनाता हूँ जिससे पता चलेगा कि आत्मविश्वास में कितनी शक्ति होती है। Atmavishwas kaise Badhaye

Atmavishwas kaise Badhaye

एक समय की बात है एक राजा थे वो शिकार पे गये थे जब वो शाम को अपने राजमहल आये तो देखा  कि एक बुढा आदमी महल के बाहर बैठा था। ठंडी का दिन था तो उसकी हड्डिया ठंड से काँप रही थी।

फिर भी वह ठंडी को बर्दाश्त कर रहा था। ये देख के राजा उस बूढ़े आदमी के पास गए और उससे पूछा क्या आपको ठंडी नहीं लग रही है उस आदमी ने जवाब दिया ठंड तो लग रही है हुजूर, पर क्या करु, मेरे पास गर्म कपडा नहीं है। इसलिए बर्दाश्त करना पड़ रहा है।

तब राजा ने उस बूढ़े आदमी से कहा रुको मै अंदर से कुछ गर्म कपडे भेजवाता हु, फिर राजा महल के अंदर गये और किसी दूसरे काम में व्यस्त हो गये और और गर्म कपडे भेजवाने के बारे में भूल गए।

जब सुबह हुआ तो राजा को ये बात याद आई और वो तुरंत उस आदमी के पास माफ़ी मांगने गए। पर वहा जा के उन्होंने देखा की उस बूढ़े आदमी की लाश पड़ी हुई है, और उसके थोड़ी ही दूर मिट्टी पे उसके उंगलियों से लिखे हुए कुछ शब्द थे।

राजा साहब मै कई सालो से सर्दियों में इसी नाजुक कपडे में रहता था, और ना जाने कितनी कितनी ही सर्दिया आकर चली भी जाती थी और मै बर्दाश्त कर लेता था। लेकिन कल रात आपके गर्म कपडे के लालच ने मेरी जान निकाल दी।

दोस्तों इस कहानी Atmavishwas kaise Badhaye से हमें ये सीखना चाहिए की सहारे इंसान को खोखला कर देती है। दुसरो से उम्मीदे भी इंसान को कमजोर बना देती है इसलिए हमें अपने आत्मविश्वास के साथ ही जिंदगी जीना चाहिये।

इसलिए स्वयं पर विश्वास रखे लछ्य बनाये और उन्हें पूरा करने के लिए डटे रहे। जब हम अपने से कोई लछ्य बनाते है और उसे उसे पूरा करते है तो हमारा आत्मविश्वास दो गुना बढ़ जाता है।

आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमेंशा खुश रहे असफलता से कभी भी दुखी ना हो बल्कि उससे सीख ले, हमेसा ही सकारात्मक ही सोचे, और दिन की शुरुआत किसी अच्छे काम से करे।

आत्मविश्वास का सबसे बड़ा दुश्मन किसी भी कार्य को करने में असफल हो जाने का डर होता है। अगर आपको डर लग रहा है कि मै इस कार्य को नहीं कर पाउँगा तो ऐसा सोचते रहने से अच्छा कि उस कार्य को जरूर करे। इससे आपका डर भी निकलेगा।

हमेशा चिंता मुक्त रहे अच्छे काम को याद करे और सोचे कि आप सब कुछ कर सकते है आपके लिए नामुमकिन कुछ भी नहीं है। हमेशा आत्मनिर्भर बने और जिनता हो सके अपना काम स्वंम करे।

दोस्तों हमारे द्वारा दी गई जानकारी Atmavishwas kaise Badhaye आपको कैसी लगी comment करके हमें जरूर बताये धन्यवाद |

1 thought on “Atmavishwas kaise Badhaye 2023 – आत्मविश्वास कैसे बढ़ाये – Increase Self Confidence”

Leave a Comment